trendsofdiscover.com

सिरसा के इस गांव में बुजुर्ग की तेजधार हथियार से हत्या, हत्यारोपी पिता-पुत्र सहित इन 7 लोगों पर एफआईआर दर्ज

Sirsa News: बताया जाता है कि उक्त लोग बुजुर्ग के बेटे की हत्या करने के इरादे से आए थे लेकिन पिता बाहर बैठा मिल गया। जानकारी के अनुसार गांव अलीकां निवासी 65 वर्षीय दर्शन सिंह मजदूरी करता था। कुछ दिन पहले दर्शन सिंह के पुत्र कर्म तेज सिंह का गांव के ही कुलदीप के साथ झगड़ा हो गया था।
 | 
Sirsa News

चंडीगढ़: सिरसा जिला के गांव अलीकां में बीती रात सात लोगों ने एक बुजुर्ग की हत्या कर दी। घटना की सुचना मिलने पर डबवाली सीटी थाना पुलिस मौके पर पहुंची। शत्र का आज डबवाली सिविल हॉस्पिटल में पोस्टमार्टम किया गया। पुलिस का कहना है कि मृतक के घरवालों के बयान पर आरोपियों के खिलाफ हत्या का केस दर्ज कर लिया गया है। 

बताया जाता है कि उक्त लोग बुजुर्ग के बेटे की हत्या करने के इरादे से आए थे लेकिन पिता बाहर बैठा मिल गया। जानकारी के अनुसार गांव अलीकां निवासी 65 वर्षीय दर्शन सिंह मजदूरी करता था। कुछ दिन पहले दर्शन सिंह के पुत्र कर्म तेज सिंह का गांव के ही कुलदीप के साथ झगड़ा हो गया था। इस दौरान दोनों परिवार के बीच जमकर गाली गलौज हुई। 

बुधवार रात करीब 10 बजे दर्शन सिंह अपने घर के बाहर फट्टे पर बैठा था। इसी दौरान कुलदीप सिंह अपने पिता सुखदेव सिंह सहित 5 अन्य लोगों को लेकर वहां आ गया। उक्त सभी के पास तेजधार हथियार व डंडे थे।

उक्त लोगों ने फट्टे पर बैठे दर्शन सिंह पर हमला कर दिया। जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गया। दर्शन सिंह के चिल्लाने की आवाज सुनकर उसकी पत्नी व बेटा बाहर आए तो हमलावर हथियार लहराते हुए भाग गए।

पुरानी रंजिस चल रही थी

इसके बाद घायल दर्शन सिंह को हॉस्पिटल ले जाया गया। यहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। इसके बाद घरवालों ने घटना की सूचना पुलिस को दी। डबवाली सीटी थाना प्रभारी शैलेंद्र कुमार पुलिस फोर्स लेकर मौके पर पहुंचे।

पुलिस का कहना है कि दर्शन सिंह के बेटे कर्म तेज के बयानों पर आरोपी कुलदीप सिंह, गंगा सिंह, सुखदेव सिंह, लबी सिंह, रवि, मनप्रीत व झूठी के खिलाफ हत्या का केस दर्ज किया गया है।

पुरानी रंजिश के चलते हत्या को अंजाम दिया गया। आरोपियों को जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा। मृतक के शव का पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों को सौंप दिया गया है।

Latest News

You May Like