trendsofdiscover.com

DA Arrears: अब केंद्रीय कर्मचारियों के खिलेंगे चहरे, सरकार कर्मचारियों के खाते में डालेगी इतने महीनों का बकाया पैसा, जाने..

हाल ही में केंद्रीय कर्मचारियों के लिए बड़ी खुशखबरी दरअसल केंद्र सरकार ने कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में 4 फीसदी बढ़ोतरी को मंजूरी दे दी है इसके साथ ही कर्मचारियों को 3 महीने का एरियर भी मिलेगा, आइए जानते हैं इसके बारे मे पूरी डिटेल्स..
 | 
7th Pay Commission, DA Arrears

Trends Of Discover, नई दिल्ली: आपकी जानकारी के लिए बता दे कि केंद्र सरकार ने त्योहारी सीजन के दौरान केंद्रीय कर्मचारियों का डीए 4 फीसदी बढ़ाकर 46 फीसदी कर उन्हें टैक्स का तोहफा दिया है.

कर्मचारियों को अब अक्टूबर की सैलरी के साथ 4 फीसदी अतिरिक्त महंगाई भत्ता दिया जाएगा. नया महंगाई भत्ता साल की दूसरी छमाही से 1 जुलाई 2023 से लागू होगा. भुगतान के साथ 3 महीने का बकाया भी दिया जाएगा.

केंद्रीय कर्मचारियों का महंगाई भत्ता 1 जुलाई से 4 फीसदी बढ़ गया है इसलिए जुलाई से सितंबर तक के महंगाई भत्ते का भुगतान एरियर के रूप में किया गया है. 3 महीने के एरियर से सभी केंद्रीय कर्मचारियों और पेंशनर्स को फायदा हुआ है.

लेवल 1 पर कर्मचारियों का ग्रेड वेतन 1800 रुपये है। मूल वेतन 18000 रुपये है। इसके अलावा, यह टीए जोड़ता है। इसके बाद ही अंतिम क्षेत्र का निर्धारण किया जाता है. इन कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में बढ़ोतरी से कुल DA में 774 रुपये का अंतर आ गया है.

लेवल-1 ग्रेड पे-1800 पर केंद्रीय कर्मचारियों का अधिकतम मूल वेतन 56,900 रुपये है। इन कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में बढ़ोतरी से कुल DA में 2420 रुपये का अंतर आ गया है

लेवल में न्यूनतम वेतन

लेवल-10 में केंद्रीय कर्मचारियों का ग्रेड पे-5400 रुपए होता है। इन केंद्रीय कर्मचारियों का न्यूनतम मूल वेतन 56,100 रुपये है। इन कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में बढ़ोतरी से कुल DA में 2532 रुपये का अंतर आ गया है.

कैबिनेट सचिव का वेतन

लेवल 18 पर, वेतन बिना किसी ग्रेड-पे के तय किया जाता है। इस स्तर पर कैबिनेट सचिव का वेतन 250,000 रुपये है। महंगाई भत्ता 4% बढ़ने पर 10288 रु. सैलरी बढ़ जाएगी। 7वें वेतन आयोग के तहत केंद्रीय कर्मचारियों की सैलरी को लेवल 1 से लेवल तक अलग-अलग ग्रेड-पे में बांटा गया है लेवल 1 में न्यूनतम वेतन 18,000 रुपये से शुरू होता है और अधिकतम वेतन 56,900 रुपये है इसी तरह, वेतन लेवल-2 से लेकर ग्रेड-पे के अनुसार अलग-अलग होता है

हालाँकि, लेवल-15, 17, 18 में कोई ग्रेड-पे नहीं है और वेतन निर्धारित है। लेवल-15 में न्यूनतम मूल वेतन 182,200 रुपये और अधिकतम वेतन 2,24,100 रुपये है लेवल-17 में बेसिक सैलरी 2,25,000 रुपये है, लेवल-18 में बेसिक सैलरी 2,50,000 रुपये तय है।

Latest News

You May Like