trendsofdiscover.com

UP News: सिपाही भर्ती के बाद RO/ARO की परीक्षा रद्द, सीएम योगी ने लिया बड़ा फैसला, छह महीने में बाद फिर से परीक्षा

आरओ/एआरओ परीक्षा को लेकर सीएम योगी ने बड़ा फैसला लिया है. शनिवार को सीएम योगी आदित्यनाथ ने यूपी पुलिस भर्ती परीक्षा के बाद आरओ/एआरओ परीक्षा भी रद्द कर दी है. CM योगी ने छह महीने के अंदर...
 | 
UP News, सीएम योगी

Trends Of Discover, लखनऊ: यूपी कांस्टेबल भर्ती परीक्षा का पेपर लीक होने के बाद अब सीएम योगी ने RO/ARO परीक्षा रद्द कर दी है. साथ ही सीएम योगी ने पूरे मामले की जांच एसटीएफ को सौंप दी है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने युवाओं के हितों को ध्यान में रखते हुए छह महीने में प्रारंभिक परीक्षा दोबारा कराने के साथ ही इसमें शामिल लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। 

मुख्यमंत्री ने शनिवार को उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग द्वारा फरवरी में आयोजित समीक्षा अधिकारी एवं सहायक समीक्षा अधिकारी प्रारंभिक परीक्षा-2023 की समीक्षा की। परीक्षा में कथित तौर पर प्रश्नपत्र के कुछ प्रश्न सोशल मीडिया पर वायरल होने की शिकायत मिली थी. इस संबंध में सरकार ने आम जनता के लिए परीक्षा को प्रभावित करने से संबंधित तथ्यों के उपलब्ध साक्ष्य मांगे थे.

मुख्यमंत्री ने प्राप्त साक्ष्यों एवं आयोग द्वारा उपलब्ध करायी गयी रिपोर्ट के आधार पर सरकार को दोनों सत्रों की प्रारंभिक परीक्षा रद्द करने का निर्देश दिया. उन्होंने अगले छह माह में दोबारा परीक्षा कराने का भी निर्देश दिया. 

मुख्यमंत्री ने यह भी निर्देश दिया है कि मामले की जांच एसटीएफ को सौंपी जाए ताकि ऐसे आपराधिक कृत्यों में शामिल लोगों की पहचान की जा सके और उनके खिलाफ सख्त कानूनी और दंडात्मक कार्रवाई की जा सके। एसटीएफ जल्द से जल्द अपनी जांच पूरी करेगी और इसमें शामिल सभी जिम्मेदार लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी.

गौरतलब है कि पेपर लीक की खबरों के बाद सीएम योगी ने यूपी कांस्टेबल भर्ती परीक्षा रद्द कर दी थी. इसके बाद सोशल मीडिया पर आरओ/एआरओ परीक्षा के पेपर लीक के मामले वायरल होने लगे थे। साथ ही समीक्षा अधिकारी परीक्षा रद्द करने का मामला भी गरमा रहे थे. 

इस संबंध में सरकार ने कहा था कि वह परीक्षा पत्रों के लीक होने से संबंधित सबूत उपलब्ध कराएगी. पेपर लीक से जुड़े सबूत मिलने के बाद सरकार ने अपनी रिपोर्ट सीएम योगी को सौंपी. पेपर लीक से जुड़ी रिपोर्ट को देखते हुए सीएम योगी ने RO/ARO परीक्षा रद्द करने का फैसला लिया. 

सीएम योगी ने लोक सेवा आयोग द्वारा 11 फरवरी को आयोजित समीक्षा अधिकारी/सहायक समीक्षा अधिकारी (प्रारंभिक) परीक्षा 2023 के दोनों सत्रों की परीक्षाएं छह महीने के भीतर दोबारा आयोजित करने के आदेश भी जारी किए.

Latest News

You May Like